अटारी बॉर्डर पर पाक से नहीं मिलेंगे ‘हाथ’

अमृतसर
दुनियाभर के
कई देशों में फैल चुके कोरोना वायरस ने भारत में भी अपनी दस्तक दे दी है। इसको देखते हुए ऐहतियातन अटारी-वाघा बॉर्डर पर होने वाली बीटिंग द रीट्रीट सेरिमनी पर रोक लगा दी गई है। पंजाब के अटारी स्थित भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर रोजाना होने वाले इस विश्व प्रसिद्ध समारोह के आयोजन पर शनिवार से अगले आदेश तक रोक लगा दी गई है।

बता दें कि अटारी-वाघा बॉर्डर पर होने वाली बीटिंग द रीट्रीट सेरिमनी के दौरान भारत की ओर से बीएसएफ और पाकिस्तान की ओर से रेंजर्स एक-दूसरे के आमने-सामने आकर अपने-अपने युद्ध कौशल का प्रदर्शन करते हैं और हाथ मिलाते हैं। इसके अलावा दोनों देश बॉर्डर पर ध्वजारोहण और ध्वज उतारते हैं।

हालांकि सरकार के दिशा-निर्देशों के बाद शनिवार से यह सेरिमनी नहीं होगी। यानी रोजाना हजारों की संख्या में इस सेरिमनी का गवाह बनने वाले लोगों को फिलहाल इसका मौका नहीं मिलेगा। इस दौरान बीएसएफ के द्वारा सिर्फ ध्वजारोहण/ध्वज उतारा जाएगा।

रोजाना 20-25 हजार दर्शक देखते थे समारोह
इस बारे में ज्यादा जानकारी देते हुए अमृतसर के डेप्युटी कमिश्नर शिवदुलार सिंह ढिल्लों ने कहा, 'कोरोना वायरस के मद्देनजर अटारी-वाघा बॉर्डर पर होने वाले सार्वजनिक समारोह पर रोक लगा दी गई है। रोजाना इस समारोह में करीब 20-25 हजार लोग हिस्सा लेते हैं।'

Noman Khan
Author: Noman Khan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

What does "money" mean to you?
  • Add your answer
[adsforwp id="60"]
error: Content is protected !!