स्थानीय फसल प्रजातियों को जी.आई. टेग दिलाएंगे

भोपाल
प्रदेश की स्थानीय विशिष्ट फसल प्रजातियों के उत्पादन को प्रोत्साहित करने और भौगोलिक सांकेतिक (जीआई) टेग के साथ फसलों का चयन प्र-संस्करण मूल्य संवर्धन और विपणन व्यवस्था संबंधी रणनीति निर्धारण के लिये आज प्रशासन अकादमी में कार्यशाला हुई। भारत सरकार के 'एक जिला-एक फसल' कार्यक्रम के तहत हुई कार्यशाला में कृषि वैज्ञानिकों, विषय विशेषज्ञों, प्रगतिशील किसानों, कृषि उत्पाद उद्यमियों और विभागीय अधिकारियों के बीच मंथन हुआ। कृषि वैज्ञानिकों ने खाद्यान, दलहन, तिलहन, लघु धान्‍य फसलों की उत्पादन संभावनाएँ, चुनौतियाँ और जीआई टेग पर आधारित प्रस्तुतिकरण दिया। कार्यशाला के साथ मध्यप्रदेश 'एक जिला-एक फसल' पर कार्यशाला करने वाला पहला राज्य बन गया है।

प्रमुख सचिव किसान कल्याण तथा कृषि विकास  अजीत केसरी ने कहा कि विशिष्ट वस्तुओं का बाजार बहुत तेजी से बढ़ रहा है। उपभोक्ता गुणवत्तापूर्ण उत्पादों का स्वागत कर रहे हैं। इसका लाभ किसानों को मिलना चाहिए। झाबुआ जिले के कड़कनाथ प्रजाति को जीआई टेग मिलने से इसको काफी लाभ मिला है। प्रदेश के अन्य विशिष्ट कृषि उत्पादों के लिये भी जीआई टेग हासिल करने की इस कार्यशाला के माध्यम से पहल की जा रही है।

संचालक  संजीव सिंह ने कहा कि प्रदेश की फसलों की विशिष्टताओं को देखते हुए जीआई टेग हासिल करने की दिशा में जिलावार 'एक जिला एक फसल' कार्यक्रम तैयार किया गया है। इससे कई फसलों के निर्यात के अधिकार प्रदेश के किसानों को प्राप्त हो सकेंगे और किसानों की आय बढ़ेगी।

मुख्य महा-प्रबंधक नाबार्ड  सुनील कुमार बंसल ने कहा कि नाबार्ड कृषि एवं उद्यानिकी उत्पादों को जीआई टेग में पंजीयन कराने के साथ किसानों को उत्पादन वृद्धि के लिये अनुदान भी दे रहा है। अपर संचालक  बी.एम. सहारे ने प्रदेश में कृषि जलवायु क्षेत्रानुसार विभिन्न फसलों और उत्पादन का सांख्यिकी विश्लेषण करते हुए मध्यप्रदेश में जीआई टेग की संभावनाओं को बताया। राष्ट्रीय सलाहकार एनएफएसएम डॉ. डी.पी. सिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य है जिसने 'एक जिला एक फसल' कार्यक्रम के क्रियान्वयन के लिये सबसे पहली कार्यशाला आयोजित की। कार्यशाला की अनुशंसाएं कार्यक्रम के क्रियान्वयन में बहुत लाभकारी होंगी। विधि सलाहकार  जे.साईं दीपक (दिल्ली) ने जीआई टेग के कानूनी पहलुओं की जानकारी दी।  रामनाथ सूर्यवंशी ने प्रदेश के कृषि उत्पादों के प्र-संस्करण मूल्य संवर्धन के बारे में बताया।

प्रमुख वैज्ञानिक कृषि विश्वविद्यालय जबलपुर डॉ. जी.के. कोतू ने धान की स्थानीय किस्मों की विशिष्टताएँ बताते हुए चिन्नौर किस्म को जल्दी ही जीआई टेग दिये जाने पर बल दिया। अधिष्ठाता एवं प्रधान वैज्ञानिक डॉ. पी.सी. मिश्रा ने कहा कि देश में मध्यप्रदेश का शरबती गेहूँ एम.पी.व्हीट के नाम से लोकप्रिय है। विशेष स्वाद, सुगंध और पोषक तत्वों की प्रचुरता के कारण इसका जीआई टेग में पंजीयन होना चाहिए। इससे किसानों को अधिक मूल्य मिलेगा। डॉ. साईं प्रसाद ने ड्यूरम गेहूँ, डॉ. दुपारे ने सोया उत्पादों के पोषणी मूल्य, डॉ. सिन्हा ने कृषि उत्पाद प्र-संस्करण, डॉ. एम. यासीन ने दलहनी फसलों की नयी किस्मों, डॉ. ओ.पी. दुबे ने प्रदेश में उगाई जाने वाली लघु धान्य फसलों में कोदो कुटकी, रागी, सावां, चीना और कंगनी फसलों के विशेष गुणों पर प्रकाश डाला।  दुबे ने कहा जीआई टेग मिलने से आदिवासी अंचल के किसानों की आय में वृद्धि होगी।

Noman Khan
Author: Noman Khan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

What does "money" mean to you?
  • Add your answer

बड़ी खबर – झाबुआ जिले के लिए गौरव का क्षण, झाबुआ की सांस्कृतिक एवं पारंपरिक कलाओं को संरक्षित तथा संवर्धित करने वाले रमेश परमार एवं उनकी धर्मपत्नी श्रीमती शांति परमार का पद्मश्री-2023 सम्मान के लिए हुआ चयन, दिल्ली से चयन की प्राप्त हुई सूचना, शारदा समूह एवं समस्त स्नेहीजनों ने शुभकामनाएं प्रेषित की

नाबार्ड द्वारा जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित झाबुआ के महाप्रबंधक आरएस वसुनिया को दीर्घावधि पुर्नवित्त क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य हेतु सम्मानित किया गया, बैंक स्टाॅफ ने शुभकामनाएं प्रेषित की

विधानसभा चुनाव-2023 में युवा मोर्चा की रहेगी विशेष भूमिका -ः भाजपा जिला महामंत्री सोमसिंह सोलंकी, ‘‘खेलेगा मप्र, खिलेगा कमल’’ महाभियान’’ में प्रत्येक मंडल स्तरों पर युवाओं के अधिकाधिक आनलाईन रजिस्ट्रेशन के साथ 7-8 खेल गतिविधियां की जाएं -ः भाजयुमो जिलाध्यक्ष कुलदीपसिंह चौहान, भाजयुमो की जिला इकाई एवं समस्त मंडलों की बैठक हुई संपन्न

गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग पर तीन दिवसीय बसंतोत्सव धूमधाम से एवं हर्षोल्लापूर्वक मनाया जा रहा, प्रथम दिन कलश यात्रा एवं नारी जागरण तथा सम्मान समारोह का हुआ आयोजन, दूसरे दिन गायत्री परिजनों ने गायत्री महामंत्र एवं शिव मृत्युंजय महामंत्र के किए सामूहिक जाप, 26 जनवरी को यज्ञ एवं विभिन्न संस्कार होंगे

बड़ी खबर – झाबुआ जिले के लिए गौरव का क्षण, झाबुआ की सांस्कृतिक एवं पारंपरिक कलाओं को संरक्षित तथा संवर्धित करने वाले रमेश परमार एवं उनकी धर्मपत्नी श्रीमती शांति परमार का पद्मश्री-2023 सम्मान के लिए हुआ चयन, दिल्ली से चयन की प्राप्त हुई सूचना, शारदा समूह एवं समस्त स्नेहीजनों ने शुभकामनाएं प्रेषित की

नाबार्ड द्वारा जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित झाबुआ के महाप्रबंधक आरएस वसुनिया को दीर्घावधि पुर्नवित्त क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य हेतु सम्मानित किया गया, बैंक स्टाॅफ ने शुभकामनाएं प्रेषित की

विधानसभा चुनाव-2023 में युवा मोर्चा की रहेगी विशेष भूमिका -ः भाजपा जिला महामंत्री सोमसिंह सोलंकी, ‘‘खेलेगा मप्र, खिलेगा कमल’’ महाभियान’’ में प्रत्येक मंडल स्तरों पर युवाओं के अधिकाधिक आनलाईन रजिस्ट्रेशन के साथ 7-8 खेल गतिविधियां की जाएं -ः भाजयुमो जिलाध्यक्ष कुलदीपसिंह चौहान, भाजयुमो की जिला इकाई एवं समस्त मंडलों की बैठक हुई संपन्न

गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग पर तीन दिवसीय बसंतोत्सव धूमधाम से एवं हर्षोल्लापूर्वक मनाया जा रहा, प्रथम दिन कलश यात्रा एवं नारी जागरण तथा सम्मान समारोह का हुआ आयोजन, दूसरे दिन गायत्री परिजनों ने गायत्री महामंत्र एवं शिव मृत्युंजय महामंत्र के किए सामूहिक जाप, 26 जनवरी को यज्ञ एवं विभिन्न संस्कार होंगे

आध्यात्म एवं मेडिटेशन से जुड़कर बलिकाएं अपने व्यक्तित्व तथा कृतित्व में लाए निखार -ः बीके जयंती दीदी, ब्रम्हकुमारी संस्था (शिव स्मृति भवन) पर राष्ट्रीय बालिका दिवस पर 51 ग्रामीण बालिकाओं का किया गया सम्मान, पुरस्कार स्वरूप बाल-पेन प्रदान किए गए, बालिकाओं के लिए विभिन्न मनोरंजक गेम्स रखे गए

[adsforwp id="60"]
error: Content is protected !!

बड़ी खबर – झाबुआ जिले के लिए गौरव का क्षण, झाबुआ की सांस्कृतिक एवं पारंपरिक कलाओं को संरक्षित तथा संवर्धित करने वाले रमेश परमार एवं उनकी धर्मपत्नी श्रीमती शांति परमार का पद्मश्री-2023 सम्मान के लिए हुआ चयन, दिल्ली से चयन की प्राप्त हुई सूचना, शारदा समूह एवं समस्त स्नेहीजनों ने शुभकामनाएं प्रेषित की

नाबार्ड द्वारा जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित झाबुआ के महाप्रबंधक आरएस वसुनिया को दीर्घावधि पुर्नवित्त क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य हेतु सम्मानित किया गया, बैंक स्टाॅफ ने शुभकामनाएं प्रेषित की