धार जिले के जंगल में मिला तेंदुए का शावक, इंदौर भेजा

 
धार-सरदारपुर

बाग क्षेत्र के गांव करगदा में रविवार सुबह ग्रामीणों को तेंदुए का शावक दिखाई दिया। पहले तो ग्रामीण इसे पहचान नहीं पाए थे। बाद में पहचान होने परवन विभाग को सूचना दी गई। इसके बाद टीम पहुंची और शावक को सुरक्षित किया। वनकर्मी मादा तेंदुए की तलाश कर रहे हैं। इधर, दोपहर में शावक को इंदौर के चिड़ियाघर भेज दिया गया है। बताया जा रहा है कि 15 दिन के इस शावक का इंदौर में इलाज किया गया।

पहले तो ग्रामीणों ने इसे बिल्ली का बच्चा समझा। ऐसे में बच्चे उसके साथ खेल रहे थे, लेकिन जब यह समझ में आया कि यह अलग रंग-रूप वाला है तो तुरंत ही ग्रामीणों ने वन विभाग को इसकी सूचना दी। टीम मौके पर पहुंची और उसको सुरक्षित लेकर बाग पहुंचे। वरिष्ठ अधिकारियों से मार्गदर्शन लेने के बाद में इस शावक को तत्काल ही वाहन के माध्यम से इंदौर के चिड़ियाघर रवाना कर दिया गया।

बताया जा रहा है कि यह शावक मादा तेंदुए के साथ में भ्रमण कर रहा था और इसी दौरान अंधेरे में यह भटक कर ग्रामीण क्षेत्र में आ गया। दूसरी ओर अब पुलिस और वन विभाग इस बात पर निगरानी रखे हुए हैं। ताकि मादा तेंदुए के साथ में और भी शावक हों तो उनकी सुरक्षा की जा सके। खासकर वन विभाग का पूरा अमला मादा तेंदुए और उसके अन्य बच्चों की सुरक्षा के लिए तैनात है। इस शावक की आयु 15 दिन बताई जा रही है।
 
इस संबंध में वन विभाग सरदारपुर के अनुविभागीय अधिकारी राकेश डामोर ने बताया कि बाग वन क्षेत्र के पाडलिया के कंपार्टमेंट नंबर 18 के ग्राम करगदा में यह शावक दिखाई दिया। 15 दिन की उम्र का यह शावक अपनी मादा तेंदुआ मां से बिछड़ कर इस गांव की ओर पहुंच गया। बताया कि संभवत रात में जब मादा तेंदुआ भ्रमण कर रही होगी, तब यह बच्चा भटक गया और अंधेरे में गांव की ओर आ गया। हमें जैसे ही इस बात की सूचना मिली वैसे ही हमने अपने वरिष्ठ अधिकारी के साथ-साथ जिला वन अधिकारी को इस बात की जानकारी दी।
 
उन्होंने बताया कि यह तेंदुआ अनुसूची 1 के अंतर्गत है। इसलिए से बहुत ही सुरक्षति तरीके से तुरंत ही इंदौर की चिड़ियाघर भेजा गया। ताकि वहां उसकी देखभाल हो सके। उन्होंने बताया कि इसको लेकर चिंता इसलिए थी क्योंकि स्थानीय स्तर पर इस को दूध पिलाने या अन्य कुछ खिलाने के कारण नुकसान होने की स्थिति बन सकती थी। इसलिए को सुरक्षति तरीके से तुरंत ही इंदौर भेज भी दिया गया।

इधर बताया जा रहा है कि मादा तेंदुआ द्वारा एक बार में कम से कम तीन से चार शावकों को जन्म दिया जाता है। ऐसे में एक बच्चा भटक कर ग्राम करगदा पहुंच गया था। अब यह माना जा रहा है कि 3 शावक और भी है जो कि अभी भी मादा तेंदुए के साथ भ्रमण कर रहे हैं।

Noman Khan
Author: Noman Khan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

What does "money" mean to you?
  • Add your answer

स्वामी विवेकानंद की 159वीं जयंती के अवसर पर जन अभियान परिषद् द्वारा पुलिस सामुदायिक भवन में जिला स्तरीय कार्यशाला का हुआ आयोज, अतिथि एवं वक्ताओं ने विवेकानंदजी के व्यक्तित्व तथा कृतित्व रखे अपने-अपने विचार

वनवासी कल्याण परिषद युवा प्रमुख एवं हित रक्षा तथा समस्त विद्यार्थियों ने मिलकर निकाली रैली, 1710 विद्यार्थियों द्वारा हस्ताक्षर कर ऑनलाइन परीक्षा केंद्र जिले में खोले जाने एवं कृषि महाविद्यालय की मांग को लेकर सीएम के नाम सौंपा ज्ञापन

कांग्रेस ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर बस स्टैंड फव्वारा चौक पर प्रतिमा पर किया माल्यार्पण, भारत जोड़ो यात्रा के बाद अब हाथ से हाथ जोड़ो अभियान के तहत घर-घर जाकर किया संपर्क, कांग्रेस के प्रदेश महासचिव जेवियर मेड़ा एवं जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रांका के नेतृत्व में हुआ कार्यक्रम

झाबुआ का भगोरिया नृत्य अब विदेशों के मंच पर भी धूम मचाने को है तैयार, इंदौर में आयोजित प्रवासी भारतीय सम्मेलन में रंग आरोहण नाट्य संस्था के कलाकारों की प्रस्तुति से मंत्रमुग्ध हुए प्रवासी भारतीय, अबू धाबी, अफ्रीका, जर्मनी, कतर में प्रस्तुति देने के लिए किया आमंत्रित, भारतभर में धूम मचा रहे संस्था के युवा कलाकार

स्वामी विवेकानंद की 159वीं जयंती के अवसर पर जन अभियान परिषद् द्वारा पुलिस सामुदायिक भवन में जिला स्तरीय कार्यशाला का हुआ आयोज, अतिथि एवं वक्ताओं ने विवेकानंदजी के व्यक्तित्व तथा कृतित्व रखे अपने-अपने विचार

वनवासी कल्याण परिषद युवा प्रमुख एवं हित रक्षा तथा समस्त विद्यार्थियों ने मिलकर निकाली रैली, 1710 विद्यार्थियों द्वारा हस्ताक्षर कर ऑनलाइन परीक्षा केंद्र जिले में खोले जाने एवं कृषि महाविद्यालय की मांग को लेकर सीएम के नाम सौंपा ज्ञापन

कांग्रेस ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर बस स्टैंड फव्वारा चौक पर प्रतिमा पर किया माल्यार्पण, भारत जोड़ो यात्रा के बाद अब हाथ से हाथ जोड़ो अभियान के तहत घर-घर जाकर किया संपर्क, कांग्रेस के प्रदेश महासचिव जेवियर मेड़ा एवं जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रांका के नेतृत्व में हुआ कार्यक्रम

झाबुआ का भगोरिया नृत्य अब विदेशों के मंच पर भी धूम मचाने को है तैयार, इंदौर में आयोजित प्रवासी भारतीय सम्मेलन में रंग आरोहण नाट्य संस्था के कलाकारों की प्रस्तुति से मंत्रमुग्ध हुए प्रवासी भारतीय, अबू धाबी, अफ्रीका, जर्मनी, कतर में प्रस्तुति देने के लिए किया आमंत्रित, भारतभर में धूम मचा रहे संस्था के युवा कलाकार

[adsforwp id="60"]
error: Content is protected !!