आज कोर्ट से मिलेगी राहत?, निर्भया के दोषियों को कल सुबह होनी है फांसी

 
नई दिल्ली 

निर्भया के गुनहगारों को कल सुबह फांसी होगी या नहीं? इस पर आज सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट अपना फैसला सुनाएगा. दरअसल, निर्भया के एक दोषी पवन कुमार ने फांसी से तीन दिन पहले यानी शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की और मौत की सजा को उम्रकैद में बदलने की मांग की. इस याचिका पर आज सुनवाई होगी.

इसके साथ ही चारों दोषियों की शारीरिक और मानसिक स्थिति जानने के लिए राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) को निर्देश देने की मांग को लेकर शनिवार को दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गई. इस पर भी आज सुनवाई हो सकती है.

डेथ वारंट पर रोक लगाने की मांग
सुप्रीम कोर्ट और दिल्ली हाई कोर्ट के अलावा आज पटियाला हाउस कोर्ट में भी निर्भया के दोषियों की अर्जी पर सुनवाई होगी. दरअसल, निर्भया के दोषी अक्षय और पवन ने कोर्ट में भी अर्जी लगाई, जिसमें डेथ वारंट पर रोक की मांग की गई है. कोर्ट में निर्भया के दोषी पवन ने दलील दी कि उसने सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव पिटीशन लगाई है. लिहाजा उसकी फांसी की सजा पर रोक लगाई जाए.

पांच जजों की बेंच करेगी सुनवाई
सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की सुनवाई जस्टिस एन. वी. रमन्ना की अगुवाई में जस्टिस अरुण मिश्रा, जस्टिस नरीमन, जस्टिस भानुमति और जस्टिस अशोक भूषण की बेंच चैंबर में करेगी. इससे पहले सुप्रीम कोर्ट निर्भया के तीन दोषियों यानी अक्षय, विनय और मुकेश की क्यूरेटिव पिटीशन खारिज कर चुका है.

फैसले में गलतियों की दलील
निर्भया के दोषी पवन कुमार के वकील एपी सिंह ने कहा कि अपराध के समय वह किशोर था और मौत की सजा उसे नहीं दी जानी चाहिए. पहले के फैसलों में कई गलतियां रही हैं और उन्हें उम्मीद है कि इन गलतियों को इस क्यूरेटिव याचिका के माध्यम से संशोधित किया जाएगा.
 
पवन के पास ही बचे हैं विकल्प
पवन कुमार ही एक मात्र दोषी है, जिसके पास अभी कुछ कानूनी विकल्प बचे हुए है, इसमें क्यूरेटिव पिटीशन और दया याचिका शामिल है. पवन के वकील एपी सिंह ने कहा कि हमारा मुख्य तर्क यह है कि अपराध के समय पवन एक संगीत कार्यक्रम में थे.

3 मार्च को सुबह 6 बजे फांसी
निर्भया के दोषियों को फांसी पर चढ़ाने के लिए तीसरी बार डेथ वारंट जारी किया गया है. इससे पहले पटियाला हाउस कोर्ट ने दो बार डेथ वारंट जारी किया था, लेकिन कानूनी अड़चनों के कारण दोनों बार डेथ वारंट कैंसिल कर दिया गया है. तीसरे डेथ वारंट के अनुसार, निर्भया के चारों दोषियों को 3 मार्च की सुबह 6 बजे फांसी दिया जाना है.

Noman Khan
Author: Noman Khan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

What does "money" mean to you?
  • Add your answer

स्वामी विवेकानंद की 159वीं जयंती के अवसर पर जन अभियान परिषद् द्वारा पुलिस सामुदायिक भवन में जिला स्तरीय कार्यशाला का हुआ आयोज, अतिथि एवं वक्ताओं ने विवेकानंदजी के व्यक्तित्व तथा कृतित्व रखे अपने-अपने विचार

वनवासी कल्याण परिषद युवा प्रमुख एवं हित रक्षा तथा समस्त विद्यार्थियों ने मिलकर निकाली रैली, 1710 विद्यार्थियों द्वारा हस्ताक्षर कर ऑनलाइन परीक्षा केंद्र जिले में खोले जाने एवं कृषि महाविद्यालय की मांग को लेकर सीएम के नाम सौंपा ज्ञापन

कांग्रेस ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर बस स्टैंड फव्वारा चौक पर प्रतिमा पर किया माल्यार्पण, भारत जोड़ो यात्रा के बाद अब हाथ से हाथ जोड़ो अभियान के तहत घर-घर जाकर किया संपर्क, कांग्रेस के प्रदेश महासचिव जेवियर मेड़ा एवं जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रांका के नेतृत्व में हुआ कार्यक्रम

झाबुआ का भगोरिया नृत्य अब विदेशों के मंच पर भी धूम मचाने को है तैयार, इंदौर में आयोजित प्रवासी भारतीय सम्मेलन में रंग आरोहण नाट्य संस्था के कलाकारों की प्रस्तुति से मंत्रमुग्ध हुए प्रवासी भारतीय, अबू धाबी, अफ्रीका, जर्मनी, कतर में प्रस्तुति देने के लिए किया आमंत्रित, भारतभर में धूम मचा रहे संस्था के युवा कलाकार

स्वामी विवेकानंद की 159वीं जयंती के अवसर पर जन अभियान परिषद् द्वारा पुलिस सामुदायिक भवन में जिला स्तरीय कार्यशाला का हुआ आयोज, अतिथि एवं वक्ताओं ने विवेकानंदजी के व्यक्तित्व तथा कृतित्व रखे अपने-अपने विचार

वनवासी कल्याण परिषद युवा प्रमुख एवं हित रक्षा तथा समस्त विद्यार्थियों ने मिलकर निकाली रैली, 1710 विद्यार्थियों द्वारा हस्ताक्षर कर ऑनलाइन परीक्षा केंद्र जिले में खोले जाने एवं कृषि महाविद्यालय की मांग को लेकर सीएम के नाम सौंपा ज्ञापन

कांग्रेस ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर बस स्टैंड फव्वारा चौक पर प्रतिमा पर किया माल्यार्पण, भारत जोड़ो यात्रा के बाद अब हाथ से हाथ जोड़ो अभियान के तहत घर-घर जाकर किया संपर्क, कांग्रेस के प्रदेश महासचिव जेवियर मेड़ा एवं जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रांका के नेतृत्व में हुआ कार्यक्रम

झाबुआ का भगोरिया नृत्य अब विदेशों के मंच पर भी धूम मचाने को है तैयार, इंदौर में आयोजित प्रवासी भारतीय सम्मेलन में रंग आरोहण नाट्य संस्था के कलाकारों की प्रस्तुति से मंत्रमुग्ध हुए प्रवासी भारतीय, अबू धाबी, अफ्रीका, जर्मनी, कतर में प्रस्तुति देने के लिए किया आमंत्रित, भारतभर में धूम मचा रहे संस्था के युवा कलाकार

[adsforwp id="60"]
error: Content is protected !!