जुर्माना वसूलने से बड़ी है लोगों की जान की कीमत : डी.जी.पी. श्री अवस्थी

रायपुर
डीजीपी श्री डी.एम. अवस्थी ने पुलिस मुख्यालय नवा रायपुर में प्रदेश के सभी जिलों के यातायात प्रभारियों की समीक्षा बैठक ली। बैठक में श्री अवस्थी ने पिछले वर्ष प्रदेशभर में सड़क दुर्घटनाओं में हुई 4 हजार 9 सौ 56 मौतों पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि जुर्माने से बड़ी लोगों की जान की कीमत है। यातायात प्रभारियों की जिम्मेदारी है कि सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाएं, तेज गति वाहनों पर सख्त कार्रवाई करें।

श्री अवस्थी ने सभी को निर्देशित किया कि एक माह के अंदर यातायात प्रभारी, जिला बल के साथ ट्रैफिक व्यवस्था को दुरुस्त करें। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति की जान की कीमत उसके परिवार के लिए बहुमूल्य है। ट्रैफिक पुलिस का कार्य ट्रैफिक व्यवस्था को सुधार कर लोगों को दुर्घटनाओं से बचाना है। लोगों को दुर्घटनाओं से बचाने के लिए प्रत्येक जिले में स्पीड रडार लगायें। तेज गति वाले वाहन चालकों पर सख्त कार्रवाई करें। कार्रवाई का उद्देश्य लोगों को दुर्घटनाओं से बचाना होना चाहिए ना कि जुर्माना वसूलना। श्री अवस्थी ने निर्देशित किया कि रात से सुबह तक स्पेशल पेट्रोलिंग कर तेज गति के वाहनों पर नियंत्रित करें। उन्होंने कहा कि प्रत्येक माह यातायात प्रभारियों की समीक्षा की जाएगी। जिसमें बिंदुवार समीक्षा कर जिम्मेदारी तय की जाएगी। अच्छा कार्य होने पर पुरस्कृत किया जाएगा और लापरवाही पाए जाने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। समीक्षा बैठक में डीआईजी श्री मयंक श्रीवास्तव, श्री संजय शर्मा उपस्थित रहे।

Noman Khan
Author: Noman Khan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

What does "money" mean to you?
  • Add your answer
[adsforwp id="60"]
error: Content is protected !!