गुजरात के डिप्टी CM को कांग्रेस का खुला ऑफर- 20 विधायक लेकर आएं, बनें CM

गांधीनगर

राज्यसभा की रिक्त हो रही चार सीटों पर 26 मार्च को होने वाली वोटिंग से पहले गुजरात में सियासत गरमा गई है. हालांकि इस सियासत के केंद्र में आ गए हैं सूबे के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल. विपक्षी कांग्रेस ने नितिन पटेल को मुख्यमंत्री बनने का खुला ऑफर देकर राजनीतिक सरगर्मी बढ़ा दी है. कांग्रेस ने यह ऑफर कहीं इधर-उधर नहीं, सीधे विधानसभा में दिया. यह वाकया सोमवार का है.

हुआ यह कि सोमवार को विधानसभा में प्रश्नकाल चल रहा था. चर्चा के दौरान ही बातों ही बातों में अमरेली जिले के लाठी विधानसभा क्षेत्र से विधायक विरजी ठुमरने ने अचानक उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल का नाम लिया. विरजी ने नितिन पटेल को 20 विधायकों के साथ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) छोड़ कांग्रेस में आने का खुला ऑफर दे दिया. उन्होंने कहा कि आप 20 विधायकों के साथ कांग्रेस ज्वॉइन करें, हम आपको मुख्यमंत्री बनाएंगे. विरजी के इस बयान के बाद विधानसभा में हंगामा शुरू हो गया.

अब भाजपा, नितिन पटेल के बचाव में उतर आई है. गुजरात भाजपा ने विधानसभा में दिए गए ऑफर को लेकर कहा है कि कांग्रेस नितिन पटेल को निशाना बना रही है. वहीं, राजनीति के जानकार इसे चार राज्यसभा सीटों के लिए होने वाली वोटिंग से पहले कांग्रेस की बदली रणनीति का हिस्सा बता रहे हैं. गौरतलब है कि राज्यसभा चुनाव से पहले अब तक कांग्रेस के विधायक पाला बदलकर भाजपा में शामिल होते रहे हैं. ऐसे में इस बार कांग्रेस विधायक का यह बयान भाजपा की ओर से जोड़-तोड़ की राजनीति शुरू होने से पहले उसे अपना कुनबा बचाए रखने में उलझाए रखने की रणनीति के तौर पर देखा जा रहा है. इस बार विधानसभा सीटों में इजाफे के कारण कांग्रेस को राज्यसभा में एक सीट का लाभ होता नजर आ रहा है. कांग्रेस किसी तरह का जोखिम नहीं लेना चाहती. वर्तमान परिस्थितियों में भाजपा और कांग्रेस, दोनों को ही चार में से दो-दो सीटें मिलती नजर आ रही हैं.

अब सवाल यह भी उठता है कि आखिर भाजपा को जोड़-तोड़ की राजनीति से दूर रखने के लिए कांग्रेस ने नितिन पटेल को ही क्यों चुना? पाटीदार समुदाय के नेता नितिन पटेल एक समय मुख्यमंत्री बनने की रेस में सबसे आगे माने जा रहे थे. उनके समर्थक इसे लेकर इतने आश्वस्त थे कि मिठाइयां तक बांटी जाने लगी थीं, लेकिन ऐन वक्त पर विजय रुपाणी मुख्यमंत्री बन गए और नितिन को उपमुख्यमंत्री पद से संतोष करना पड़ा था. नितिन पिछले कुछ समय से पार्टी में अलग-थलग चल रहे थे. उन्होंने विश्व उमिया धाम में पिछले दिनों खुद अपना दर्द बयां करते हुए कहा था कि एक तरफ सभी हैं और दूसरी तरफ मैं अकेला. उन्होंने कहा था कि मां उमिया का आशीर्वाद और पाटीदार का खून है कि सबके सामने खड़ा हूं.

Noman Khan
Author: Noman Khan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

What does "money" mean to you?
  • Add your answer

स्वामी विवेकानंद की 159वीं जयंती के अवसर पर जन अभियान परिषद् द्वारा पुलिस सामुदायिक भवन में जिला स्तरीय कार्यशाला का हुआ आयोज, अतिथि एवं वक्ताओं ने विवेकानंदजी के व्यक्तित्व तथा कृतित्व रखे अपने-अपने विचार

वनवासी कल्याण परिषद युवा प्रमुख एवं हित रक्षा तथा समस्त विद्यार्थियों ने मिलकर निकाली रैली, 1710 विद्यार्थियों द्वारा हस्ताक्षर कर ऑनलाइन परीक्षा केंद्र जिले में खोले जाने एवं कृषि महाविद्यालय की मांग को लेकर सीएम के नाम सौंपा ज्ञापन

कांग्रेस ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर बस स्टैंड फव्वारा चौक पर प्रतिमा पर किया माल्यार्पण, भारत जोड़ो यात्रा के बाद अब हाथ से हाथ जोड़ो अभियान के तहत घर-घर जाकर किया संपर्क, कांग्रेस के प्रदेश महासचिव जेवियर मेड़ा एवं जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रांका के नेतृत्व में हुआ कार्यक्रम

झाबुआ का भगोरिया नृत्य अब विदेशों के मंच पर भी धूम मचाने को है तैयार, इंदौर में आयोजित प्रवासी भारतीय सम्मेलन में रंग आरोहण नाट्य संस्था के कलाकारों की प्रस्तुति से मंत्रमुग्ध हुए प्रवासी भारतीय, अबू धाबी, अफ्रीका, जर्मनी, कतर में प्रस्तुति देने के लिए किया आमंत्रित, भारतभर में धूम मचा रहे संस्था के युवा कलाकार

स्वामी विवेकानंद की 159वीं जयंती के अवसर पर जन अभियान परिषद् द्वारा पुलिस सामुदायिक भवन में जिला स्तरीय कार्यशाला का हुआ आयोज, अतिथि एवं वक्ताओं ने विवेकानंदजी के व्यक्तित्व तथा कृतित्व रखे अपने-अपने विचार

वनवासी कल्याण परिषद युवा प्रमुख एवं हित रक्षा तथा समस्त विद्यार्थियों ने मिलकर निकाली रैली, 1710 विद्यार्थियों द्वारा हस्ताक्षर कर ऑनलाइन परीक्षा केंद्र जिले में खोले जाने एवं कृषि महाविद्यालय की मांग को लेकर सीएम के नाम सौंपा ज्ञापन

कांग्रेस ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर बस स्टैंड फव्वारा चौक पर प्रतिमा पर किया माल्यार्पण, भारत जोड़ो यात्रा के बाद अब हाथ से हाथ जोड़ो अभियान के तहत घर-घर जाकर किया संपर्क, कांग्रेस के प्रदेश महासचिव जेवियर मेड़ा एवं जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रांका के नेतृत्व में हुआ कार्यक्रम

झाबुआ का भगोरिया नृत्य अब विदेशों के मंच पर भी धूम मचाने को है तैयार, इंदौर में आयोजित प्रवासी भारतीय सम्मेलन में रंग आरोहण नाट्य संस्था के कलाकारों की प्रस्तुति से मंत्रमुग्ध हुए प्रवासी भारतीय, अबू धाबी, अफ्रीका, जर्मनी, कतर में प्रस्तुति देने के लिए किया आमंत्रित, भारतभर में धूम मचा रहे संस्था के युवा कलाकार

[adsforwp id="60"]
error: Content is protected !!