प्लास्टिक पर 9 दिन तक जिंदा रह सकता है कोरोना वायरस!

 
नई दिल्ली 

कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ते प्रकोप पर कई तरह के सवाल उठ रहे हैं. क्या खाना चाहिए, क्या नहीं और इससे बचने के लिए क्या कदम उठाए जा सकते हैं. यह वायरस कितने दिन तक जीवित रह सकता है और जमीन व अन्य सतह पर इसके जिंदा रहने की मियाद क्या है जैसे सवाल भी लोग उठा रहे हैं. इस बारे में 'आजतक' ने मेदांता मेडिसिटी के चेयरमैन डॉ. नरेश त्रेहान से खास बातचीत की जिसमें उन्होंने कोरोना वायरस के हर पहलू पर विस्तार से जानकारी दी.

सपोर्टिव थेरेपी से इलाज

डॉ. नरेश त्रेहान ने कहा, खासी, सर्दी और जुकाम हो तो तुरंत अस्पताल में जाएं और अपना ब्लड और स्वाब टेस्ट कराएं ताकि पता चले कि कोरोना वायरस का संक्रमण है या नहीं. इसका कोई इलाज नहीं है लेकिन सपोर्टिव थेरेपी है. इसके माध्यम से फ्लूइड देकर बुखार को नियंत्रण में लाया जाता है या और भी कोई संक्रमण है तो उसका इलाज किया जा सकता है. अस्पताल में जल्दी पहुंचे तो ज्यादा चांस है कि सब ठीक हो जाएगा.

बीमारी के प्रकोप के बारे में उन्होंने कहा, आज के दिन में 16 देशों में यह वायरस फैल गया है. रोज नए-नए केस सामने आ रहे हैं. इसमें मौत की भी खबरें आ रही हैं. पहले सार्स या मर्स वायरस भी आए लेकिन उसमें मृत्यु दर 2-3 प्रतिशत थी लेकिन इसमें 3-4 प्रतिशत तक देखा जा रहा है. यह जानलेवा वायरस है, इसलिए लोगों को सलाह दी जा ही है कि इसको गंभीरता से लें. अगर कोई खांसी-बुखार से पीड़ित है तो उससे 2 मीटर तक दूरी बनाए रखें. खांसने या छींकने से यह वायरस फैलता है. इससे दूसरे आदमी को भी संक्रमण हो सकता है.

हाथ न मिलाएं, नमस्ते करें

डॉ. नरेश त्रेहान ने कहा, पुराने वायरस की तुलना में कोरोना वायरस लगभग दोगुने दर से बढ़ रहा है. इसलिए जब आप किसी बंद जगह पर हों तो मास्क लगाएं. अपने हाथों को साबुन या सैनिटाइजर से धोएं जिसमें 75 प्रतिशत तक अल्कोहल हो. कोरोना के वायरस जमीन पर गिरने के बाद 9 दिन तक जिंदा रह सकते हैं. इसलिए अपने घर या दफ्तर की जमीन को डिसइन्फेक्टेंट से साफ करते रहें. हाथ बराबर धोएं और आज के दिन हाथ मिलाना बिल्कुल बंद करें. नमस्ते करना ज्यादा अच्छा है जो हमारी पुरानी परंपरा है. अपनी सुरक्षा के लिए ये चीजें जरूरी हैं.

सुरक्षा के सवाल पर उन्होंने कहा, अन्य लोगों की सुरक्षा का भी हमें ध्यान रखना है. सार्वजनिक जगहों पर जाने से बचें. भारत में इस वायरस का पता चला है इसलिए हमारे लिए चिंता की बात है क्योंकि हमारे यहां आबादी बहुत ज्यादा है. अगर यहां बढ़ना शुरू हुआ तो रोकना मुश्किल हो जाएगा क्योंकि हमारे संसाधन भी काफी सीमित हैं. इसका इलाज नहीं है, इसलिए परहेज से ही हम इससे बच सकते हैं.

परहेज सबसे बड़ी सुरक्षा

अफवाह और डर के बारे में डॉ. त्रेहान ने कहा, ऐसा कोई डर नहीं होना चाहिए कि जिसे कोरोना वायरस हो जाएगा उसकी मौत हो जाएगी. इसकी दर अभी 3-4 प्रतिशत है लेकिन यह दर भी काफी ज्यादा है. इसलिए बीमारी को काफी गंभीरता से लेने की जरूरत है. हमारे पास सीमित लैब हैं जिनमें टेस्ट हो सकता है. कल से सरकार ने ऐलान किया है कि और लैब खुल रही हैं. हमारी तादाद इतनी ज्यादा है कि बीमारी फैलने पर इसे रोकना बहुत मुश्किल होगा. परहेज ही सबसे बड़ी सुरक्षा है. हमारे पास इतने हॉस्पिटल नहीं हैं, इतनी आइसोलेशन फैसिलिटी नहीं है. इसे देखते हुए अपना ख्याल रखें, अपने परिवार का ख्याल रखें.

एहतियात में क्या कदम उठाए जा सकते हैं, इस बारे में डॉ. त्रेहान ने कहा, सरकार को हर फ्लाइट पर थर्मल टेस्टिंग शुरू कर देनी चाहिए. देश में तैयारी की जहां तक बात है तो हमें ज्यादा तैयार रहना होगा ताकि देश पर ज्यादा भार न आए. यह वायरस तापमान संवेदनशील है. एक बार तापमान 35 से ऊपर हो जाएगा तो मुमकिन है कि यह वायरस खुद ही नियंत्रण में आ जाए. 52 डिग्री तापमान पर 15 मिनट के लिए भी रखा जाए तो यह वायरस जिंदा नहीं रहेगा. हमलोग एक साथ मिलकर लड़ेंगे तो यकीन है कि देश पर इसका असर कम पड़ेगा.

प्लास्टिक पर जिंदा रहता है वायरस

क्या मोबाइल से भी यह वायरस फैल सकता है? इस पर डॉ. त्रेहान ने कहा, मोबाइल से वायरस नहीं फैल सकता लेकिन अगर किसी ने उस पर खांस दिया या किसी संक्रमित व्यक्ति की छींक पड़ी हो तो यह वायरस 48 घंटे तक वहां जिंदा रह सकता है. कहा जा रहा है कि यह वायरस प्लास्टिक की सतह पर 9 दिन तक जिंदा रह सकता है. इसलिए मोबाइल को किसी साफ जगह पर रखा जाना चाहिए. डिसइन्फेक्टेंट से उसे साफ करते रहने चाहिए ताकि उससे संक्रमण न फैले.

Noman Khan
Author: Noman Khan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

What does "money" mean to you?
  • Add your answer

बड़ी खबर – झाबुआ जिले के लिए गौरव का क्षण, झाबुआ की सांस्कृतिक एवं पारंपरिक कलाओं को संरक्षित तथा संवर्धित करने वाले रमेश परमार एवं उनकी धर्मपत्नी श्रीमती शांति परमार का पद्मश्री-2023 सम्मान के लिए हुआ चयन, दिल्ली से चयन की प्राप्त हुई सूचना, शारदा समूह एवं समस्त स्नेहीजनों ने शुभकामनाएं प्रेषित की

नाबार्ड द्वारा जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित झाबुआ के महाप्रबंधक आरएस वसुनिया को दीर्घावधि पुर्नवित्त क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य हेतु सम्मानित किया गया, बैंक स्टाॅफ ने शुभकामनाएं प्रेषित की

विधानसभा चुनाव-2023 में युवा मोर्चा की रहेगी विशेष भूमिका -ः भाजपा जिला महामंत्री सोमसिंह सोलंकी, ‘‘खेलेगा मप्र, खिलेगा कमल’’ महाभियान’’ में प्रत्येक मंडल स्तरों पर युवाओं के अधिकाधिक आनलाईन रजिस्ट्रेशन के साथ 7-8 खेल गतिविधियां की जाएं -ः भाजयुमो जिलाध्यक्ष कुलदीपसिंह चौहान, भाजयुमो की जिला इकाई एवं समस्त मंडलों की बैठक हुई संपन्न

गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग पर तीन दिवसीय बसंतोत्सव धूमधाम से एवं हर्षोल्लापूर्वक मनाया जा रहा, प्रथम दिन कलश यात्रा एवं नारी जागरण तथा सम्मान समारोह का हुआ आयोजन, दूसरे दिन गायत्री परिजनों ने गायत्री महामंत्र एवं शिव मृत्युंजय महामंत्र के किए सामूहिक जाप, 26 जनवरी को यज्ञ एवं विभिन्न संस्कार होंगे

बड़ी खबर – झाबुआ जिले के लिए गौरव का क्षण, झाबुआ की सांस्कृतिक एवं पारंपरिक कलाओं को संरक्षित तथा संवर्धित करने वाले रमेश परमार एवं उनकी धर्मपत्नी श्रीमती शांति परमार का पद्मश्री-2023 सम्मान के लिए हुआ चयन, दिल्ली से चयन की प्राप्त हुई सूचना, शारदा समूह एवं समस्त स्नेहीजनों ने शुभकामनाएं प्रेषित की

नाबार्ड द्वारा जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित झाबुआ के महाप्रबंधक आरएस वसुनिया को दीर्घावधि पुर्नवित्त क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य हेतु सम्मानित किया गया, बैंक स्टाॅफ ने शुभकामनाएं प्रेषित की

विधानसभा चुनाव-2023 में युवा मोर्चा की रहेगी विशेष भूमिका -ः भाजपा जिला महामंत्री सोमसिंह सोलंकी, ‘‘खेलेगा मप्र, खिलेगा कमल’’ महाभियान’’ में प्रत्येक मंडल स्तरों पर युवाओं के अधिकाधिक आनलाईन रजिस्ट्रेशन के साथ 7-8 खेल गतिविधियां की जाएं -ः भाजयुमो जिलाध्यक्ष कुलदीपसिंह चौहान, भाजयुमो की जिला इकाई एवं समस्त मंडलों की बैठक हुई संपन्न

गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग पर तीन दिवसीय बसंतोत्सव धूमधाम से एवं हर्षोल्लापूर्वक मनाया जा रहा, प्रथम दिन कलश यात्रा एवं नारी जागरण तथा सम्मान समारोह का हुआ आयोजन, दूसरे दिन गायत्री परिजनों ने गायत्री महामंत्र एवं शिव मृत्युंजय महामंत्र के किए सामूहिक जाप, 26 जनवरी को यज्ञ एवं विभिन्न संस्कार होंगे

आध्यात्म एवं मेडिटेशन से जुड़कर बलिकाएं अपने व्यक्तित्व तथा कृतित्व में लाए निखार -ः बीके जयंती दीदी, ब्रम्हकुमारी संस्था (शिव स्मृति भवन) पर राष्ट्रीय बालिका दिवस पर 51 ग्रामीण बालिकाओं का किया गया सम्मान, पुरस्कार स्वरूप बाल-पेन प्रदान किए गए, बालिकाओं के लिए विभिन्न मनोरंजक गेम्स रखे गए

[adsforwp id="60"]
error: Content is protected !!

बड़ी खबर – झाबुआ जिले के लिए गौरव का क्षण, झाबुआ की सांस्कृतिक एवं पारंपरिक कलाओं को संरक्षित तथा संवर्धित करने वाले रमेश परमार एवं उनकी धर्मपत्नी श्रीमती शांति परमार का पद्मश्री-2023 सम्मान के लिए हुआ चयन, दिल्ली से चयन की प्राप्त हुई सूचना, शारदा समूह एवं समस्त स्नेहीजनों ने शुभकामनाएं प्रेषित की

नाबार्ड द्वारा जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित झाबुआ के महाप्रबंधक आरएस वसुनिया को दीर्घावधि पुर्नवित्त क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य हेतु सम्मानित किया गया, बैंक स्टाॅफ ने शुभकामनाएं प्रेषित की